यह वह हिन्दुत्व नहीं जिसने बाबरी मस्जिद तोड़ी- शशि थरूर

यह वह हिन्दुत्व नहीं जिसने बाबरी मस्जिद तोड़ी- शशि थरूर

हिन्दुत्व को राजनीतिक रूप से पेश करना कुछ और नहीं बल्कि हिन्दू धर्म पर प्रहार है

लेखक एवं नेता शशि थरूर ने दावा किया है कि हिन्दुत्व को राजनीतिक रूप से पेश करना कुछ और नहीं बल्कि हिन्दू धर्म पर प्रहार है। उन्होंने यह भी कहा कि सहस्राब्दियों से विश्व कल्याण की कामना करने वाले इस धर्म ने बाहरी आक्रमणों में अपनी प्रतिरोध क्षमता का प्रदर्शन किया है किंतु भीतर से होने वाले हमलों के कारण अब यह अपनी कमजोरी दिखा रहा है।

साक्षी प्रभा पर छपी खबर के अनुसार, नयी पुस्तक ‘ द हिन्दू वे- एन इंट्रोडक्शन टू हिन्दुइज्म’ में उन्होंने हिन्दू धर्म के महत्वपूर्ण दर्शनों जैसे अद्वैत वेदांत पर गहन चिंतन किया है और उन प्रारंभिक धारणाओं की ओर ध्यान दिलाया है जो धर्म का आधार हैं। यह पुस्तक उनकी पूर्व की किताब ‘ वाई आई एम ए हिन्दू’ की श्रृंखला की अगली कड़ी है।

थरूर ने किताब में लिखा, ‘‘ हिन्दू धर्म अपने खुलेपन, दूसरे विचारों का सम्मान करने और अन्य विश्वासों को स्वीकार करने के लिए जाना जाता है। यह एक ऐसा धर्म है जो अन्य धर्मों के भय के बिना डटा रहा। लेकिन यह वह हिन्दुत्व नहीं है जिसने बाबरी मस्जिद तोड़ी, न ही यह सांप्रदायिक राजनीतिक नेताओं द्वारा घृणा भरे बोलों का वमन है।’’

अठारह पुस्तकें लिख चुके थरूर ने कहा कि हिन्दुत्व का ऐसा दृष्टिकोण पेश करने के लिए हिन्दुत्व राजनीति का विरोध किया जाना चाहिए। यह दृष्टिकोण ऐसी हर उस चीज का विरोध करता है जिसके पक्ष में सार्वभौम धर्म होता है।

Syndicated Feed from Siasat hindi – hindi.siasat.com Original Link- Source


chrome_5UcEeDOjV2
दिल्ली: अंकित के पिता ने अदालत में बेटे के हत्यारों की पहचान की
मुस्लिम देश का बयान- ‘किसी भी ज़ंग को खत्म नहीं कर सकता’

WARAQU-E-TAZA ONLINE

I am Editor of Urdu Daily Waraqu-E-Taza Nanded Maharashtra Having Experience of more than 20 years in journalism and news reporting. You can contact me via e-mail waraquetazadaily@yahoo.co.in or use facebook button to follow me