मैच के दौरान मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में CAA और NRC के खिलाफ प्रदर्शन

मैच के दौरान मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में CAA और NRC के खिलाफ प्रदर्शन

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) का विरोध और समर्थन अब तक सड़कों पर ही दिख रहा था, लेकिन मंगलवार को इसका शोर मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में भी देखने को मिला. दरअसल, वानखेड़े स्टेडियम में जिस वक्त भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमें आमने-सामने थीं उस दौरान कुछ दर्शक एनआरसी, सीएए और एनपीआर के खिलाफ नारे लगाने लगे.

https://platform.twitter.com/widgets.js

CAA विरोधी नारे लिखी टी-शर्ट पहनकर पहुंचे दर्शक

वानखेड़े स्टेडियम में कुछ दर्शकों ने CAAविरोधी नारे लिखी टी-शर्ट पहनकर पहुंचे. दर्शकों ने स्टेडियम में CAA, NRC और NPR के विरोध में टी-शर्ट पहनकर मोदी सरकार का विरोध किया. इस दौरान इन दर्शकों ने अपनी जगह खड़े होकर नारे भी लगाए. हालांकि, इस दौरान इन युवाओं ने जोर-जोर से इंडिया-इंडिया के भी नारे लगाए. इस दौरान पीछे से मोदी-मोदी के नारे भी लगे.

इस दौरान दोनों गुटों में से कुछ लोगों की बहस हुई. घटना के फौरन बाद वहां मौजूद सुरक्षाकर्मी मौके पर पहुंच गए और उन्हें हटाने की कोशिश करने लगे. हालांकि, बाद में सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें शांति बनाए रखने की चेतावनी देकर छोड़ दिया.

सिर्फ मुंबई ही नहीं बल्कि भारत के हर कोणे में एनआरसी और सीएए का विरोध हो रहा है। लोग सड़कों पर आकर इसके खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। 10 जनवरी को यह कानून पूरे भारत में लागू कर दिया गया था।

पिछले महीने ही राष्ट्रपति ने इस कानून को मंजूरी दे दी और तभी के इसके खिलाफ प्रदर्शन हो रहा है। करीब एक महीने का समय बितने के बाद भी यह प्रदर्शन कम नहीं हो रहा है।

यह पहला मौका नहीं है, जब क्रिकेट के मैदान पर राजनीतिक मुद्दा उठाया गया है। आईपीएल 2019 के मैच के दौरान फैंस ने “चौकीदार चोर है” के नारे लगाए थे। इससे पहले भारत और श्रीलंका के बीच गुवाहाटी में हुए मैच में बैनर-पोस्टर लाने की अनुमति नहीं थी।

This post appeared first on The Siasat.com

HAJJ ASIAN

WARAQU-E-TAZA ONLINE

I am Editor of Urdu Daily Waraqu-E-Taza Nanded Maharashtra Having Experience of more than 20 years in journalism and news reporting. You can contact me via e-mail waraquetazadaily@yahoo.co.in or use facebook button to follow me

جواب دیں

آپ کا ای میل ایڈریس شائع نہیں کیا جائے گا۔