खेल की 5 बड़ी खबरें: बेसिन रिजर्व में न्यूजीलैंड का शिकांजा और ईशांत के मुरीद हुए गिलेस्पी


वेलिंग्टन टेस्ट: बेसिन रिजर्व में न्यूजीलैंड का शिकांजा

न्यूजीलैंड ने बेसिन रिजर्व मैदान पर खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के तीसरे दिन रविवार को भारत पर अपनी पकड़ मजबूत कर ली। दिन के पहले सत्र से लेकर आखिरी सत्र तक लगभग पूरे समय कीवी टीम ने भारत पर अपना दबदबा बनाए रखा।

भारत को पहली पारी में 165 रनों पर ढेर करन के बाद तीसरे दिन की शुरुआत पांच विकेट के नुकसान पर 216 रनों से करने वाली न्यूजीलैंड ने पहले सत्र में 348 रनों पर ऑल आउट होने से पूर्व अपने खाते में 123 रनों का इजाफा कर भारत को पर 183 रनों की बढ़त ले ली। उसके गेंदबाजों ने खासकर ट्रेंट बाउल्ट ने यह सुनिश्चित किया कि भारत दूसरी पारी में भी आसानी से रन नहीं कर पाए। इस प्रयास में वह सफल भी रहे और स्टम्प्स की घोषणा तक भारत के चार विकेट 144 रनों पर चटका मैच पर अपना शिकंजा कस लिया। भारत अभी भी कीवी टीम से 39 रन पीछे है।

♨️Join Our Whatsapp 🪀 Group For Latest News on WhatsApp 🪀 ➡️Click here to Join♨️

मेहमान टीम के लिए अगर कोई बल्लेबाज चल सका था वो रहे सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल जिन्होंने 58 रनों की पारी खेली। ट्रेंट बाउल्ट ने पृथ्वी शॉ (14), चेतेश्वर पुजारा (11) और कप्तान विराट कोहली (19) के विकेट ले भारत को परेशानी में डाल दिया। इस बीच मयंक ने एक छोर संभाले रखा।

दिन के दूसरे सत्र में दूसरी पारी खेलने उतरी भारत को पहला झटका 27 के कुल स्कोर पर शॉ के रूप में लगा। पुजारा 78 के कुल स्कोर पर टीम के दूसरे विकेट के रूप में आउट हुए। उनके आउट होते ही दूसरे सत्र की समाप्ति की घोषणा कर दी गई।

तीसरे सत्र में आने के कुछ देर बाद मयंक भी साउदी की गेंद पर आउट हो गए। मयंक ने 99 गेंदों पर सात चौके और एक छक्के की मदद से अर्धशतकीय पारी खेली। मयंक का विकेट 96 के कुल स्कोर पर गिरा। फिर बाउल्ट ने कोहली को 113 रनों पर पवेलियन भेज भारत को चौथी सफलता दिलाई। यहां से भारत के लिए राहत की बात यह रही कि उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे और हनुमा विहारी ने दिन का खेल खत्म होने तक कीवी टीम को पांचवां विकेट नहीं लेने दिया। रहाणे 25 तो विहारी 15 रन बनाकर खेल रहे हैं। दोनों ने मिलकर 31 रन जोड़ लिए हैं।

یہ بھی پڑھیں:  क्या शाह ने मोदी से कुछ ऐसा छिपाया है कि रिश्तों में आ गई खटास, आखिर सीन से गायब क्यों हैं गृहमंत्री !

इससे पहले, भारत को उम्मीद थी कि वो कीवी टीम को तीसरे दिन पहली पारी में जल्दी समेट देगा। जसप्रीत बुमराह ने बीजे वाटलिंग (14) और ईशांत ने साउदी (6) को आउट कर इसकी शुरुआत भी कर दी थी, लेकिन अपनी गेंदों से भारतीय बल्लेबाजों को परेशान करने वाले छह फुट आठ इंच के काइल जेमिसन ने बल्ले से भी शानदार पारी खेली और कोलीन डी ग्रांडहोम के साथ मिलकर आठवें विकेट के लिए 71 रन जोड़ भारत को कोशिश पूरी नहीं होने दी। जेमिसन ने 45 गेंदों पर चार छक्के और एक चौके की मदद से 44 रन बनाए। 295 के कुल स्कोर पर वह रविचंद्रन अश्विन की फिरकी में फंस कर विहारी को कैच दे बैठे।

अश्विन ने डी ग्रांडहोम को भी अर्धशतक पूरा नहीं करने दिया। 310 के कुल स्कोर पर डी ग्रांडहोम विकेटकीपर पंत के हाथों लपके गए। उन्होंने 74 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से 43 रनों की पारी खेली। इन दोनों के बाद भारतीय गेंदबाजों को बाउल्ट ने परेशान किया। बाउल्ट ने 24 गेंदों पर पांच चौके और एक छक्के की मदद से 34 रन बना अपनी टीम को अच्छा स्कोर दिया। ईशांत ने उन्हें आउट कर कीवी पारी का अंत कर दिया। भारत के लिए ईशांत ने पांच विकेट लिए। अश्विन के हिस्से तीन और बुमराह तथा शमी के हिस्से एक-एक विकेट आया।

ईशांत में बेहतर खेल दिखाने की इच्छा: गिलेस्पी

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज जेसन गिलेस्पी ने भारतीय तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा की तारीफ करते हुए कहा है कि उनमें सीखने, सुधार करने और बेहतर खेल दिखाने की इच्छा है, जिसके कारण वह बेहतर स्थिति में बने हुए हैं। ईशांत ने यहां न्यूजीलैंड के खिलाफ जारी सीरीज के पहले टेस्ट मैच के दौरान पांच विकेट हासिल किए। उन्होंने करियर में 11वीं बार टेस्ट क्रिकेट की एक पारी में पांच विकेट लेने का कारनामा किया है।

یہ بھی پڑھیں:  Coronavirus का कहर, ट्विटर ने अपने 5000 कर्मचारियों को घर से काम करने को कहा

ईशांत की शानदार गेंदबाजी के कारण न्यूजीलैंड की टीम 348 रन पर आलआउट हो गई और वह केवल 165 रन ही बढ़त हासिल कर पाई। भारत ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक चार विकेट पर 144 रन बना लिए हैं और वह अभी कीवी टीम के स्कोर से 39 से रन पीछे हैं।

गिलेस्पी ने ट्विटर पर कहा, “यह देखकर बहुत खुश हूं कि ईशांत में सीखने, सुधार करने और बेहतर खेल दिखाने की इच्छा है, जिसके कारण वह बेहतर स्थिति में बने हुए हैं। बीसीसीआई के मौजूदा कोचिंग स्टाफ को भी उनकी सफलता का श्रेय देना चाहिए।”

ईशांत को पिछले हफ्ते ही फिट घोषित किया गया है। उन्हें दिल्ली टीम की तरफ से विदर्भ के खिलाफ रणजी मैच में दाहिने टखने में ग्रेड-3 की चोट लगी थी। इसके बाद वह टेस्ट सीरीज से बाहर हो गए थे, लेकिन फिर बाद में फिट होने के कारण उन्हें आखिरी मौके पर टीम में शामिल कर लिया गया था।

आईएसएल फाइनल की मेजबानी करेगा गोवा: नीता अंबानी

फुटबाल स्पोर्ट्स डेवलपमेंट लिमिटेड (एफएसडीएल) तथा रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी ने रविवार को कहा कि इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के छठे सीजन का फाइनल गोवा में खेला जाएगा। फाइनल मुकाबला फातोर्दा स्थित जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में 14 मार्च को शाम सात बज कर 30 मिनट से खेला जाएगा।

अंबानी ने कहा, “गोवा आईएसएल फाइनल की मेजबानी का हकदार है। इस बात से कोई इनकार नहीं कर सकता कि गोवा को फुटबाल से प्यार है और हम गोवा के लोगों के लिये फुटबाल का सबसे महत्वपूर्ण मुकाबला शहर में लाना चाहते हैं।”

फातोर्दा का जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम एफसी गोवा का घरेलू मैदान है। एफसी गोवा आईएसएल के छठे सीजन में लीग चरण में शीर्ष पर रहकर एएफसी चैंपियंस लीग 2021 के ग्रुप चरण में जगह पक्की की है।

یہ بھی پڑھیں:  बड़ी खबर LIVE: राज्यसभा में कोरोना वायरस पर चर्चा, स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- अब तक देश में 29 मामले आए सामने

नीता अंबानी ने कहा, "एफसी गोवा को इस सीजन में देखना बहुत खुशी की बात है। वह लीग के पिछले छह वर्षों में एक शानदार टीम और सबसे अधिक सुसंगत क्लब रही है। एफसी गोवा के कप्तान मंदर, उनके प्रमुख गोल स्कोरर कोरो (फेरान कोरमास) और पूरे टीम को मेरी हार्दिक बधाई।”

गोवा ने इससे पहले, 2015 में आईएसएल फाइनल की मेजबानी की थी। फाइनल में चेन्नइयन एफसी ने एफसी गोवा को 3-2 से हराकर खिताब जीता था।

टेटे: माथन राजन ने स्वीडन में जीता कांस्य पदक

पहली बार अंतर्राष्ट्रीय टेबल टेनिस महासंघ (आईटीटीएफ) की जूनियर सर्किट में भाग ले रही युवा टेबल टेनिस खिलाड़ी माथन राजन हंसीनी ने स्वीडन के ओरेबो में समाप्त हुए स्वेडिश जूनियर एंड कैडेट ओपन में कांस्य पदक अपने नाम कर लिया। 10 साल की राजन को सेमीफाइनल में रूस की लुलिया पुगोवकिना के खिलाफ 12-10, 9-11, 5-11, 8-11 से हारकर कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा।

इससे पहले उन्होंने अंतिम-16 में में रूस की अलेक्जेंद्रे बोकोवा को 12-10, 9-11, 9-11, 3-11 से और क्वार्टर फाइनल में अमेरिका की इशा बाजपेयी को 11-3, 12-10, 11-9 से सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की की थी।

इस बीच, कैडेट गर्ल्स सिंगल वर्ग में एक और भारतीय सुहाना सैनी ने अंतिम-16 में प्रवेश कर लिया, जबकि कैडेट ब्वायज सिंगल वर्ग में सुरेश राज प्रयेश भी प्री-क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में सफल रहे।

टेनिस: निशियोका डेलरे बीच ओपन के फाइनल में

जापान के निशियोका योशिहितो ने छठी सीड फ्रांस के यूगो हम्बर्ट को 1-6, 6-4, 6-0 से हराकर डेलरे बीच ओवन के फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, निशियोका ने 2018 में शेनझेन ओपन के रूप में अपना पहला एटीपी खिताब जीता था।

फाइनल में निशियोका का सामना दूसरी सीड कनाडा के मिलोस रोओनिक और चौथी सीड अमेरिका के रैली ओपेल्का के बीच होने वाले मुकाबले की विजेता से होगा। रोओनिक और ओपेल्को के बीच होने वाला सेमीफाइनल मुकाबला बारिश के कारण रविवार को आयोजित किया जाएगा।

WARAQU-E-TAZA ONLINE

I am Editor of Urdu Daily Waraqu-E-Taza Nanded Maharashtra Having Experience of more than 20 years in journalism and news reporting. You can contact me via e-mail waraquetazadaily@yahoo.co.in or use facebook button to follow me

جواب دیں

آپ کا ای میل ایڈریس شائع نہیں کیا جائے گا۔