Waraqu E Taza Online
Nanded Urdu News Portal - ناندیڑ اردو نیوز پورٹل

कोरोना वायरस का क़हर: नर्स का दावा 90,000 लोग संक्रमित!

कोरोना वायरस का क़हर: नर्स का दावा 90,000 लोग संक्रमित!

एक सुरक्षात्मक सूट और फेस मास्क के साथ नर्स का एक असत्यापित वीडियो जिसमें नए कोरोनोवायरस से संक्रमित 90,000 लोगों का दावा किया गया है, यह वीडियो वायरल हो रहा है

 

 

अज्ञात नर्स का दावा है कि वह चीनी शहर वुहान के एक अस्पताल में काम कर रही है, जहां पहली बार वायरस उभरा था।

 

गंभीर स्थिति

“मैं वर्तमान में वुहान में संक्रमित हनकौ जिले में हूं। मैं आपको हुबेई प्रांत और चीन की वर्तमान स्थिति के बारे में जानकारी दे रही हूं।

 

डी डब्ल्यू पर छपी खबर के अनुसार कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर चीन में चिंताएं बढ़ती जा रही हैं। मृतकों की संख्या 100 के पार तक पहुंच चुकी है और संक्रमण कम से कम 12 देशों तक फैल चुका है।

 

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए चीन ने सोमवार 27 जनवरी को अपने सबसे बड़े राष्ट्रीय अवकाशकाल को और बढ़ा दियाा।

 

सरकार को उम्मीद है कि ऐसा करने से उसे इस महामारी से लड़ने के लिए और समय मिल जाएगा। वायरस के कारण अभी तक 100 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है।

 

चीन के प्रधानमंत्री ली किचियांग ने महामारी के केंद्र वुहान शहर का दौरा कर वहां हो रहे रोकथाम के प्रयासों पर नजर डाली। वायरस को फैलने से रोकने के लिए वुहान और उसके आस पास के कई शहरों को बंद कर दिया गया है, जिस से वहां लाखों लोग फंस गए हैं। इनमें कई विदेशी नागरिक भी हैंं।

 

विदेशी लोगों को सुरक्षित वहां से निकालने के लिए कुछ देशों ने विशेष उड़ानों का प्रबंध करना भी शुरू कर दिया है।

 

सोमवार को हुबेई प्रांत में 24 और मौतों की पुष्टि हुई, जिसमें वुहान शहर स्थित है। संक्रमित लोगों की संख्या पूरे चीन में 2,700 से भी ज्यादा बताई जा रही है।

 

अधिकारियों ने बताया कि संक्रमित लोगों में एक नौ महीने की बच्ची भी शामिल है, जो कि अभी तक बीमारी की चपेट में आए लोगों में सबसे कम उम्र की है।

 

हजारों और मरीजों में फ्लू जैसे लक्षण दिख रहे हैं लेकिन संदेह जताया जा रहा है कि वे कोरोना वायरस से संक्रमित हो सकते हैं।

 

चीन में इस समय लूनर नव वर्ष मनाया जा रहा है जो कि देश का सबसे बड़ा अवकाश होता है और इस दौरान भारी ट्रैफिक देखा जाता है। पर इस साल पूरे देश भर में यातायात पर भी भारी प्रतिबंध लगा दिए गए हैं।

 

राष्ट्रीय अवकाशकाल 30 जनवरी को खत्म होना था लेकिन केंद्र सरकार ने सोमवार 27 जनवरी को कहा कि अवकाश को तीन दिन और यानि 2 फरवरी तक बढ़ाया जाएगा। ग्रेट वॉल के कुछ हिस्सों और शंघाई डिज्नीलैंड जैसे कई लोकप्रिय पर्यटक स्थलों को भी बंद कर दिया गया है।

 

इसके बावजूद वायरस अभी तक लगभग 12 देशों तक फैल चुका है और इसे देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख ट्रेडोस घेब्रेयासुस बीजिंग जा रहे हैं।

 

एशिया में कई देशों के अलावा, इस वायरस से संक्रमण के मामले फ्रांस, अमेरिका और कनाडा तक में पाए गए हैं। सभी मामलों में यह पाया गया कि संक्रमित व्यक्ति ने चीन की यात्रा की थी।

 

मृत्यु की सभी घटनाएं चीन में ही हुई हैं, जिनमें से ज्यादातर हुबेई प्रांत में हुईं। सरकार का कहना है कि मृतकों में अधिकतर या तो वृद्ध थे या वो जो पहले से ही किसी अन्य स्वास्थ्य अवस्था की वजह से कमजोर थे।

This post appeared first on The Siasat.com